Diwali speech in hindi. दिवाली 2022 पर छात्रों के लिए भाषण 2022-10-26

Diwali speech in hindi Rating: 4,7/10 1689 reviews

हेलो दोस्तों,

आज हम सभी दीपावली के उत्सव पर बैठे हैं। दीपावली भारत का एक प्रमुख त्यौहार है जो हर साल कई दिन लगातार मनाया जाता है। यह त्यौहार भारत में हर जगह पर मनाया जाता है, लेकिन इसका सबसे बड़ा महत्व उत्तर भारत में होता है।

दीपावली का महत्व है राम और हनुमान जी की जीत हनुमान जी ने रावण से हमेशा की जीत हासिल की थी। इसलिए हम सभी इस दिन दीपों का आयोजन करते हैं ताकि हमारे घरों में प्रकाश हो। इससे हमारे घरों में शुभता और सुख आता है।

दीपावली के दिन हम सभी अपने घरों, मंदिरों, और स्थानों में दीपों जैसे कड़वे और

दिवाली पर निबंध

diwali speech in hindi

ये पर्व कार्तिक महीने की अमावस्या के दिन मनाई जाती है। अमावस्या के दिन बहुत ही अँधेरी रात होती है जिसमें दीवाली पर्व रोशनी फ़ैला ने का काम करती है। वैसे तो इस पर्व को लेकर कई कथाये है लेकिन कहते हैं भगवान राम 14 वर्ष के वनवास के बाद अयोध्या लौटे थे, इस खुशी में अयोध्या वासियों ने दीये जलाकर उनका स्वागत किया था। बाजारों को दुल्हन की तरह शानदार तरीके से सजा दिया जाता है। इस दिन बाजारों में खासा भीड़ रहती है खासतौर से मिठाइयों की दुकानों पर, बच्चों के लिये ये दिन मानो नए कपड़े, खिलौने, पटाखे और उपहारों की सौगात लेकर आता है। दीवाली आने के कुछ दिन पहले ही लोग अपने घरों की साफ-सफाई के साथ बिजली की लड़ियों से रोशन कर देते है। दीवाली उत्सव की तैयारी दीवाली के दिन सब बहुत खुश रहते है एक दूसरे को बधाइयां देते है। बच्चे खिलौने और पटाके खरीदते है, दीवाली के कुछ दिन पहले से ही घर में साफ़ सफाई शुरू हो जाती है। लोग अपने घर का सज-सज्जा करते है। लोग इस अवसर पर नए कपड़े, बर्तन, मिठाइयां आदि खरीदते है। देवी लक्ष्मी की पूजा के बाद आतिशबाजी का दौर शुरु होता है। इसी दिन लोग बुरी आदतों को छोड़कर अच्छी आदतों को अपनाते है। भारत के कुछ जगहों पर दीवाली को नया साल की शुरुआत माना जाता है साथ ही व्यापारी लोग अपने नया बही खाता से शुरुआत करते है। निष्कर्ष दीपावली, हिन्दुओं द्वारा मनाया जाने वाला सबसे बड़ा त्योहार है। दीपों का खास पर्व होने के कारण इसे दीपावली या दीवाली नाम दिया गया। कार्तिक माह की अमावस्या को मनाया जाने वाला यह महा पर्व, अंधेरी रात को असंख्य दीपों की रौनक से प्रकाशमय कर देता है। दीवाली सभी के लिये एक खास उत्सव है क्योंकि ये लोगों के लिये खुशी और आशीर्वाद लेकर आता है। इससे बुराई पर अच्छाई की जीत के साथ ही नया सत्र की शुरुआत भी होती है। Diwali speech in gujarati દિવાળી તરીકે પણ દિવાળી તરીકે ઓળખાય છે. दीपावली का महत्व पर निबंध Importance of Diwali Festival in Hindi युगों युगों से दीपावली पर्व मनाने की परंपरा चली आ रही है, मान्यता है कि जब त्रेतायुग में दुष्ट रावण के घमंड को चूर करके 14 वर्ष के वनवास के बाद अयोध्या लौटे तो उनके आने की खुशी में प्रजा द्वारा द्वीप प्रज्वलित कर उनका स्वागत किया गया। उस दिन अमावस्या की रात थी चारों तरफ घनघोर अंधेरा था, लेकिन नगर के प्रत्येक कोने कोने में दियों की जगमगाहट से हर कोना नगरी का रोशन हो गया। और तभी से दीपावली का पर्व मनाया जा रहा है। इस दिन घर के आसपास, गली मोहल्ले में हर जगह साफ-सफाई देखने को मिलती है। लोगों द्वारा अपने घरों को सजाने के लिए रंग बिरंगी लाइट, घरों में रंगोली बनाई जाती हैं। संध्या के समय भगवान श्री गणेश एवं माता लक्ष्मी की भी पूजा अर्चना कर उन्हें पसंद किया जाता है। तथा पूजा के पश्चात उनके खील एवं बतासे के प्रसाद को आस पड़ोस में एक दूसरे को बांटकर इस त्यौहार को बड़े हर्षोल्लास के साथ मनाया जाता है। मान्यता है कि दीपावली में जो श्रद्धालु सच्चे दिल से महालक्ष्मी की पूजा विधि विधान से कर उन्हें याद करते हैं। उनके घर में मां लक्ष्मी विराज करती है जिससे भक्तों को धन-धान्य सुख संपदा प्राप्त होती हैं। इसलिए हिंदुओं के लिए यह पर्व विशेष माना जाता है। यही कारण है कि भारत के हर कोने में इसकी धूमधाम देखी जा सकती है। दीपावली के दिन सुबह से ही पटाखे की आवाज सुनाई देती है और रात में रंग बिरंगे पटाखों से पूरा आसमान गूंज उठता है। देश के राज्यों में दीपावली किस तरह मनाई जाती है? दिवाळी आधीच बाजारात आहे. जिस प्रकार हमारे हिन्दू धर्म में दिवाली का विशेष महत्व है उसी प्रकार अन्य धर्मों में भी इसकी धार्मिक परंपराएँ जुड़ी हुई है. कार्तिक महिन्याच्या नवीन चंद्र दिवशी हा उत्सव साजरा केला जातो. बाजारों में इस दिन दीपावली का मेला लगता है बड़े लोग कई छोटे मोटे आईटमस खरीदते और बच्चे रंग गुलाल एवं छोटे छोटे पटाखे आदि खरीदते है.

Next

3 Best Speech about Diwali

diwali speech in hindi

क्योंकि पटाखें प्रदूषण के पात्र है पटाखें न केवल वायु प्रदूषण करते है बल्कि ध्वनि प्रदूषण भी करते है. सिखों द्वारा दीपावली को उनके गुरु हरगोविंद को रिहा करने के संदर्भ मे मनाया जाता है कहते हैं कि इस दिन मुगल बादशाह जहांगीर ने 52 शासकों के साथ हरगोविंद सिंह को ग्वालियर के किले से आजाद किया था. यदि आप दीपावली दिवाली के ऐसे ही शुभ अवसर पर Speech on Diwali in Hindi दिवाली पर भाषण खोज कर रहे है तो यह लेख आपके लिए बहुत उपयोगी साबित होगा क्योंकि dramatalk. दिवाली हिन्दूओं के एक प्रसिद्ध त्योहार का नाम है, जिसे हम प्रत्येक वर्ष कार्तिक मास की अमावस्या को मनाते है. दीपावली खासकर हमारे हिन्दू भाइयों द्वारा मनाया जाता है लेकिन आज के समय में इसे अन्य धर्मों के परिजन भी बड़े उमंग के साथ मनाते है. दिवाली केवल दीए जलाने और पटाखें फोडने के लिए ही नहीं है अपितु इसके पीछे विभिन्न प्रकार की पौराणिक कथाएँ और कहानियाँ छिपी हुई है जिससे अधिकांश लोग आज भी अपरिचित है. ગ્રાહકોના ટ્રાફિકની ઝડપમાં વધારો કરે છે.

Next

दिवाली पर भाषण 2022

diwali speech in hindi

દુકાન-દુકાન, ઘર-ઘરની ઉપાસનામાં શ્રદ્ધાંજલિ અર્થે પંડિતજી મહેમાનો કામ કરવા બહાર આવ્યા છે. Diwali Speech 2022 in English and Hindi: The festival of Diwali HappyDiwali is celebrated throughout the country with great enthusiasm. यह भी पढ़ें: भाषण — 4 आदरणीय प्रधानचार्य, उप प्रधानाचार्य, प्रिय शिक्षकों और मेरे प्यारे सहपाठियों आप सभी का इस भाषण प्रतियोगिता में हार्दिक स्वागत है। दिवाली का त्योहार अब काफी नजदीक आ चुका है और मैं निकीता शर्मा कक्षा 12 की छात्रा आप सबके सामने आज दिवाली के विषय पर भाषण दुंगी। दिवाली को प्रकाश और रंगो के त्योहार के नाम से भी जाना जाता है। हिंदू धर्म के अनुयायियों के लिए दिवाली सबसे महत्वपूर्ण त्योहारों में से एक है क्योंकि यह अंधकार पर प्रकाश जीत को प्रदर्शित करता है। यही कारण है कि हम इस त्योहार पर अपने घरों में दिये जलाते हैं। हम सभी ने अपने घरों में देखा होगा कि हमारी माताएं दिवाली के एक हफ्ते पहले ही घरों की साफ सफाई करना शुरु कर देती है, आखिर हमने सोचा है कि क्यों हमारे जीवन में दिवाली का इतना ज्यादे महत्व है। ऐसा माना जाता है कि दिवाली के शुभ दिन जो घर साफ सुथरे रहते हैं उन घरों में देवी लक्ष्मी आती हैं और अपना आशीर्वाद प्रदान करती हैं। हम सभी ने अपने दादा-दादी से दिवाली के विषय में कई तरह की किस्से कहानियाँ सुनी होंगी। कई परिवारों का मानना है कि यह त्योहार बुराई पर अच्छाई के जीत के रुप में मनाई जाता है वही कई लोगो का मानना है कि यह धन और समृद्धि की देवी लक्ष्मी तथा ज्ञान के देवता भगवान गणेश के सम्मान में मनाया जाता है। हिंदू महाकाव्य रामायण के अनुसार भगवान राम, माता सीता और लक्ष्मण जी के 14 वर्ष के वनवास के पश्चात अयोध्या वापस लौटने के खुशी में अयोध्यावासियोंने घी के दिये जलाये थे और यही से दिवाली के पर्व की शुरुआत हुई थी। इसी तरह दूसरे हिंदू महाकाव्य महाभारत के अनुसार, कुछ लोगों ने पांडवो के 12 वर्ष के वनवास और 1 वर्ष के अग्यातवास के बाद उनके राज्य में वापस लौटने पर दीप जलाकर दिवाली का त्योहार मनाया था। इसके अलावा ऐसा भी माना जाता है कि दिवाली का त्योहार तब शुरु हुआ जब देवताओं और दानवों के द्वारा समुद्र मंथन के पश्चात देवी लक्ष्मी की उत्पत्ति हुई। दिवाली का त्योहार भारत के कुछ पश्चिमी और उत्तरी भागों में नव वर्ष के शुभआरंभ का भी समय है। इसके साथ ही सिख धर्म के लोगो द्वारा स्वर्ण मंदिर में सिख धर्म के कई गुरुओं को श्रद्धांजलि देने के लिए भी मनाई जाती है। इसी तरह जैन धर्मावलम्बियों द्वारा इसे महावीर स्वामी के ज्ञान प्राप्ति का दिन भी माना जाता है। इसलिए हम यह कह सकते हैं कि क्योंकि भारत एक बहुत ही विविधता वाला देश है, इसलिए यहा विभिन्न धर्मों में दिवाली को लेकर अलग-अलग मान्यताएं प्रचलित हैं। हालांकि दिवाली प्रकाश का पर्व है पर फिर भी हममें से कई लोग इस दिन का जश्न मनाने के लिए प्रदूषण फैलाने में भी संकोच नही करते हैं। पटाखों का उपयोग करना ना सिर्फ खतरनाक है। पटाखों का उपयोग करना ना सिर्फ अस्थमा के रोगियों के लिए खतरनाक है बल्कि की सामान्य लोगों के लिए भी काफी खतरनाक है। यह हवा में कई तरह के जहरीले तत्व मुक्त करते हैं जैसे कि कार्बन मोनो अक्साइड, सल्फर डाईअक्साइड आदि। जिसके कारण अंत में प्रदूषण की समस्या उत्पन्न होती हैं। इसलिए दिवाली पर पटाखे ना फोड़ने की इस जिम्मेदारी को हम सब को मिलकर उठाना होगा और अपने आने वाली पीढ़ी के लिए पर्यावरण संरक्षण का कार्य करना होगा। ऐसा नही है कि सिर्फ मनुष्य पटाखों द्वारा उत्पन्न होने वाले कई तरह के प्रदूषणों से प्रभावित होते हैं बल्कि की यह कई पशुओं और पक्षियों को भी समान रुप से नुकसान पहुंचाता है और पटाखों से उत्पन्न होने वाले प्रदूषण के कारण उनके शरीर में आक्सीजन की मात्रा काफी कम हो जाती है और कार्बन डाई आक्साइड की मात्रा बढ़ जाती है, कई बार इसकी मात्रा ज्यादा होने के कारण उनकी मृत्यु भी हो जाती है। तो आइये हम सब साथ मिलकर प्रदूषण मुक्त दिवाली मनाने का प्रण ले। मेरे इस भाषण को इतने धैर्यपूर्वक सुनने के लिए आप सभी का धन्यवाद! तबी से हर वर्ष अयोध्या मे इस दिन को भगवान श्री राम की जीत की खुशी के रूप में मनाया जाता है. दिवाली का त्योहार भारत और अन्य देशों में किसी भी धर्म के अनुयायी मना सकते है क्योंकि यह हम सबके लिए खुशियाँ बाँटने का त्योहार है जिसे हमारे बाप-दादा सदियों से मनाते आ रहा है और आगे भी ऐसे ही मनाते रहेंगे. કોન પૂજા સમાપ્ત થઈ ત્યારે પ્રસાદ વિભાજિત થયો હતો.

Next

10 Lines On Diwali in Hindi निबंध (Essay): इस लेख में देखें

diwali speech in hindi

અન્ય લોકોને ભેટો ઓફર કરવાની માંગ વધે છે. ? हे सण — धन त्रोदशी, नर्क चतुर्दशी, दीपावली, गोवर्धन पूजा आणि भाऊ दुज आहेत. दियो को पंक्तियाँ से सज़ा कर उन्होने अपने महाराजा का स्वागत किया था और यही कारण हैं कि दीवाली को दीपावली भी कहा जाता था और तब से ही इस दिन हर साल सभी भारतीय प्रकाश पर्व दीपावली के रूप में मनाते हैं. Mostly, we celebrate Diwali in late October or early November. We worship Lord Ganesh and Goddess Lakshmi on Diwali for wealth and wisdom. You Can Share Your Favorite Diwali Quotes In Hindi To Your Friend Via WhatsApp, Facebook, Twitter Or Any Other Platform Of Your Wish.

Next

दिवाली पर शिक्षकों के लिए भाषण

diwali speech in hindi

शहरातही लोक घरे कचरा घेतात आणि भिंती रंगवतात. कहा जाता है कि भगवान श्री राम अपने पिता, दशरत की आज्ञा का पालन करने के लिए अपने भाई लक्ष्मण और पत्नी सीता सहित चौदह वर्ष के लिए वनवास गए थे वहा माता सीता का लंकापति रावण द्वारा हरण किया गया, तब भगवान राम अपने भक्त हनुमान और उनकी सैना सहित लंका पहुँचे. ऐसी मान्यता हैं कि भगवान राम जी राक्षस रावण पर जीत के साथ ही बुराई पर अच्छाई की विजय की प्राप्ति कर 14 वर्ष पूर्व अपने नगर अयोध्या अपनी पत्नी सीता और भाई लक्ष्मण के साथ वापस आए थे. इससे छोटे बच्चे, मरीज, जानवर आदि कई प्रभावित होते है. बंधुत्वाची भावना बळकट झाली. पटाखों का इस्तेमाल करना ना केवल खतरनाक है अपितु यह सामान्य लोगों के लिए भी नुकसानदायी है.

Next

दिवाली पर भाषण Speech on diwali festival in hindi

diwali speech in hindi

भाषण — 2 आदरणीय प्रधानाचार्य, उप-प्रधानाचार्य, साथी शिक्षकों और प्रिय छात्रों आप सभी का इस कार्यक्रम में हार्दिक स्वागत है। आज मैं अहाना गुप्ता कक्षा 8वीं डी की कक्षा अध्यापिका आप सबके सामने एक ऐसा भाषण देना चाहूंगी जो काफी ज्यादा महत्वपूर्ण है। दिवाली का यह त्योहार काफी पास आ चुका है और इससे जुड़ी समस्याओं के विषय में जानना हमारे लिए काफी आवश्यक है। इस देश का जिम्मेदार नागरिक होने के नाते यह हमारा कर्तव्य है कि हम इस समस्या को लेकर सामने आये और लोगों को इसके प्रति जागरूक करने का प्रयास करें। क्या आप छात्रों ने कभी इस बात पर गौर किया है कि आखिरकार सरकार को पटाखों पर क्यों प्रतिबंध लगाना पड़ा? लक्ष्मीने गणेशची पूजा केली कारण गणेश संपत्तीचे रक्षण करते आणि सर्व प्रकारचे घृणास्पद सुख नष्ट करते आणि समृद्धी आणते. Every year on this day of Diwali we celebrate it as a symbol of goodness as Ram defeated the Raavan, the king of Lanka. इस त्योहार के आने से हमें प्रकृति में बदलाव देखने को मिलता है और इसके जाने के बाद प्रकृति बहुत ही दयनीय स्वभाव की हो जाती है, इन दिनों सर्दियाँ भी दस्तक देती है. दीपावली का सबसे अंतिम और आखरी त्योहार भाईदूज का होता है जो कि भाई-बहन का त्योहार है. दिवाली पर छोटा भाषण 2022- Short Speech on Diwali in Hindi आदरणीय मुख्य अतिथि एवं मेरे प्यारे भाई बंधुओं आप सभी को दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएँ एवं बहुत बहुत बधाई, जैसा कि हम सब जानते ही हैं कि आज दिवाली पर्व जो हर वर्ष कार्तिक मास की अमावस्या को आता है चाहे बच्चे हो बड़े सबको इस का बेसब्री से इंतजार रहता है. કપાસ અને મગફળી વેચનારા લોકોની સંખ્યામાં વધારો થયો છે. રાત્રે રાત પ્રગટાવવામાં આવે છે, જેમાં જંતુઓ-મોથ અને મચ્છર નાશ પામે છે.

Next

दिवाली 2022 पर छात्रों के लिए भाषण

diwali speech in hindi

या योजनेंतर्गत राज्यातील 12 लाखांहून अधिक मजुरांना या योजनेचा लाभ घेता येणार आहे. मुले सूर्यामध्ये बॉम्ब आणि फायरक्रॅक कोरतात. दिवाली अंधेरे में प्रकाश का सुन्दर मनोरम है जिसे दीयों का त्योहार भी कहा जाता है इसे पूरे भारत में एकता की दृष्टि से मनाया जाता है. दीपावलीच्या दिवशी प्रत्येकजण व्यस्त असतो. Enjoy Meaningful And Insightful, Amazing Diwali Quotes In Hindi. The four days celebration of Diwali illuminates the country with its brilliance and fills people with joy. બાળકો સૂર્યમાં બૉમ્બ અને ફટાકડાને સૂકવે છે.

Next

Diwali Quotes In Hindi

diwali speech in hindi

Ek Dua Mangte hai hum apne Bhagwan se… Chahte hai Aapki Khushi Pure imaan se, Sab Hasratein Puri Ho Aapki, Aur Aap Muskaraye Dil-o-Jaan se!! इस त्योहार को पूरे जगत में बड़ी धूमधाम से मनाया जाता है. On the night of Diwali, people opened the doors of their homes in anticipation of the arrival of Goddess Lakshmi. दिवाली के दिन सब बहुत खुश रहते है एक दूसरे को बधाइयां देते है। बच्चे खिलौने और पटाखे खरीदते है, दिवाली के कुछ दिन पहले से ही घर में साफ़ सफाई शुरू हो जाती है। लोग अपने घर का सज-सज्जा करते है। लोग इस अवसर पर नए कपड़े, बर्तन, मिठाइयां आदि खरीदते है. भारत- स्वर्गाचे स्वर्ग देशातच मर्यादित आहे. हमारे हिन्दू धर्म में कई त्योहार आते हैं लेकिन दिवाली का पर्व हिन्दूओं के लिए एक विशेष पर्व है. घरामध्ये घरगुती खास डिश बनवते.

Next

Speech on Diwali in Hindi

diwali speech in hindi

संपूर्ण देशात, या दोन-चार तासांमध्ये कोट्यावधी रुपये फेकले जात आहेत कारण दिवाळी आता उत्सव नाही, हा उत्सवांचा उत्सव बनला आहे. Hence, it is called the Festival of Lights. अगर हर व्यक्ति इस मुद्दे को लेकर खड़ा हो जाए तो हम काफी हद तक अपने पर्यावरण को बचाने सफल हो सकते है. Every day of the festival of Diwali is marked with its different values and tradition, but what remains constant is the celebration of its enjoyment and a sense of goodness with joy. કેટલાક લોકો છત પર ચઢી જાય છે અને શહેરની સુશોભનને જુએ છે. यासह, बॉम्ब-फटाके आणि स्पार्कचे आवाज आणि चमत्कार घडणे सुरू होते.

Next

Diwali Essay in Hindi for Child Class 1st, 2, 3, 4, 5 to 12

diwali speech in hindi

इसी के साथ मैं आपके सामने दिवाली के इस मौके पर मेरे अपने कुछ विचार प्रकट करना चाहूँगा. महिलाएँ खासकर इस दिन घर में बरामदो, कमरे, किचन, आंगन आदि को साफ सुथरा बनाती है. काही भयानक प्रवृत्तीचे लोक गेममध्ये व्यस्त असताना, गेमिंग आणि पिण्याच्या तयारीमध्ये एकत्र आले आहेत. ही योजना इतर अनेक नावांनी देखील ओळखली जाते जसे की मजदूर सहायता योजना किंवा महाराष्ट्र कोरोना सहायता योजना. The assignment asks students in classes 1, 2 and 3 to describe the festival from their perspective. Conclusion: मैं उम्मीद करता हूँ कि आपको दिवाली पर भाषण 2022 - Speech on Diwali in Hindi का लेख पसंद आया होगा यदि आपको यह दिवाली भाषण संबंधित जानकारी पसंद आए तो अपने जरूर शेयर करे ताकि उन्हें भी दिवाली पर भाषण कीजरूरत हो वे भी इस लेख को पढ़ सकें धन्यवाद.

Next