Mera bachpan in hindi. I want essay on mera bachpan in hindi 2022-10-13

Mera bachpan in hindi Rating: 6,5/10 100 reviews

मेरा बचपन बहुत ही सुन्दर और आनंदमय था। मैं एक छोटे से गांव में रहता था जहां सभी मित्रों और परिवार सदस्यों से बनी एक छोटी सी समुदाय थी। हम सभी एक दूसरे से बहुत ही नजदीकी थे और हमारे बीच अनेक मजेदार गेम्स और खेल होते थे।

मैं बचपन में अपने सभी दोस्तों के साथ बहुत ही मजेदार वक्त बिताता था। हम सभी के पास एक-दूसरे के घर जाते थे और वहां बहुत ही मजेदार खेल खेलते थे। मैं भी अपने दोस्तों के साथ बचपन में कई टूर्नामेंट्स में भाग लिया था जैसे कि क्रिकेट, फुटबॉल, बास्केटबॉल और अन्य खेल।

मैं बचपन में अपनी माता-

MERA BACHPAN ESSAY IN HINDI

mera bachpan in hindi

Mera Bachpan Essay in Hindi 1000 Words मेरे बचपन के दिन बहुत ही अच्छे और सुहावने थे यह दिन किसी जन्नत से कम नहीं थे. पिट्टो एक प्रकार का खेल हैं, जिसमें गेंद से मैदान के बीच रखी गयी गोटी को मारना होता हैं. गाँधीजी: राष्ट्रपिता :: अब्दुल कलामः…………. मैं भी पिताजी से उतना ही प्रेम करता हूं. .

Next

Karnataka Class 10 Hindi Solutions वल्लरी Chapter 5 मेरा बचपन

mera bachpan in hindi

Do not copy any data from this website without permission. विद्यालय में मैं कई बार शैतानियां भी करता था जिसके कारण मुझे दंड दिया जाता था. लेकिन कटु सत्य हैं कि बचपन तो लौटकर कभी नहीं आ सकता, रह जाती हैं केवल उसकी यादें. इस समय प्राय पढ़ाई लिखाई की चिंता नहीं होती. चौक में हर साल कृष्ण जन्मोत्सव मनाया जाता था जिसमें एक छोटी मटकी को माखन से भरकर ऊपर लटका दिया जाता था फिर हम बच्चे और हमारे से बड़े लोग मिलकर छोटी मटकी को फोड़ते थे. मेरे मित्र भी मुझे उनके बदले अपनी पत्रिकाएँ एवं कॉमिक्स पढने के लिए दे दिया करते थे.

Next

मेरा बचपन पर निबंध

mera bachpan in hindi

नदी किनारे बालूतट पर अपने मित्रों के साथ बिताएं हुए मुझे आज भी याद आते हैं. इन खेलों को खेलते समय कब सुबह से शाम हो जाती थी पता ही नहीं चलता था मां मुझे हमेशा डांटती थी कि तू भोजन तो समय पर कर लिया कर, लेकिन बचपन था ही ऐसा की खेल खेलते समय भूख लगती ही नहीं थी. समाज एवं परिसर के लिए क्या कर सकता हूँ? ग्राम्य जीवन का अपना एक अलग ही आनन्द हैं. में हुआ । अ. बचपन में हम सब सुबह शाम सिर्फ मस्ती ही करते थे. स्कूल में बच्चों को मेरा बचपन पर हिन्दी में निबंध लिखने को कहा जाता हैं यहाँ आपकों निबंध की रूपरेखा बता रहे हैं.

Next

I want essay on mera bachpan in hindi

mera bachpan in hindi

उत्तर: अब्दुल कलामजी का जन्म मद्रास राज्य के रामेश्वरम् कस्बे में हुआ। प्रश्न 2. मैं बचपन में जितना चंचल था उतना ही पढ़ाई में होशियार भी था जिस कारण हमारे विद्यालय में मैं हर बार अव्वल नंबरों से पास होता था. आजकल तो परिवार खाने पीने से सुखी है. शमसुद्दीन अखबारों के वितरण का कार्य कैसे करते थे? My Childhood Golden Memories Mera Bachpan Essay in Hindi मेरा बचपन हिन्दी निबंध: बचपन के वे दिन और उनकी सुनहरी यादे जीवन भर हमारे संग रहती हैं बेफिक्री के जमाने की यादे हर किन्ही को याद अवश्य आती हैं. Mera Bachpan Essay in Hindi मेरा बचपन हिन्दी निबंध इस लेख में आपकों दी गई जानकारी अच्छी लगी होगी. .

Next

मेरा बचपन पर निबंध Mera Bachpan Essay In Hindi हिन्दी.विकिलिव.कॉम

mera bachpan in hindi

उनके लडकों को देखो तो मालूम होगा कि जो चीजे उन्हें मिलती है, उनमे से आधी चीजे तो सिर्फ बेकार में ही खो देते है. Father was leading a simple life, he was against vanity but all the facilities were available in their house. पिट्टो के अतिरिक्त मैं अपने मित्रों के साथ लुका छिपी का खेल भी खेला करता था. कि पैसे वालों के बच्चों और गरीब माँ-बाप के बालकों की सम्मति में ज्यादा फर्क न रहे. This house was situated in Masjid road.


Next

मेरा बचपन पर निबंध

mera bachpan in hindi

अब्दुल कलाम का जन्म ………. उत्तर: आशियम्माजी अब्दुल कलाम को खाने में चावल एवं स्वादिष्ट सांबार देतीं । साथ में घर का बना अचार और नारियल की ताजी चटनी भी देती थी। प्रश्न 3. भरोसा था कि आने वाले दिन इन सब चीजों को संभाल कर रखेगे. उनमें से अधिकतर मेरे मित्र मेरे गाँव बाघड़ा के ही थे. पढ़ाई के बाद खाली समय में मैं अपने मित्रों के साथ खेलना पसंद करता था.

Next

Mera Bachpan Essay in Hindi

mera bachpan in hindi

तुम्ही जोपर्यंत मार्गदर्शन मिळवण्यासाठी स्वतःहून पुढाकार घेणार नाहीत, तोपर्यंत तुम्हांला कोणाचेही मार्गदर्शन मिळणार नाही. चांगले साहित्य वाचणारा, योग्य त्याच बाबी लक्षात ठेवणारा, योग्य ठिकाणी खर्च करणारा, आवश् … यक असेल तेवढेच बोलणारा, नेहमीच इतरांच्या मदतीसाठी तत्पर असणारा विद्यार्थी भावी आयुष्यात समाजात आपली वेगळी ओळख निर्माण करतो. Violations will attract legal penalties. लेकिन वे हमारी ताकत के बाहर होते थे. Kalam had seen the damage of the sea and now he experienced the rough face of the sea also.


Next

Mera Naya Bachpan मेरा नया बचपन सारांश प्रश्न उत्तर

mera bachpan in hindi

यह भी पढ़ें — हम आशा करते है कि हमारे द्वारा Mera Bachpan Essay in Hindi पर लिखा गया निबंध आपको पसंद आया होगा। अगर यह लेख आपको पसंद आया है तो अपने दोस्तों और परिवार वालों के साथ शेयर करना ना भूले। इसके बारे में अगर आपका कोई सवाल या सुझाव हो तो हमें कमेंट करके जरूर बताएं।. अब्दुल कलामजी के चचेरे भाई कौन थे? जिस कारण हम बार-बार बारिश में देखने चले जाते थे. सभी मित्र अपनी अपनी नावों के साथ नावों की दौड़ के लिए तैयार रहते थे. पांचवीं कक्षा के बाद पढ़ाई के प्रति मेरा लगाव बढने लगा. मैं उन्हें मना लेता था. जैनुलाबदीन ने कौनसा काम शुरु किया? तू न सही तेरी याद ही सही की तरह बचपन की यादें भी कम ख़ुशी नहीं देती. आवश्यकता पड़ने पर मेरे मित्र मेरी मदद भी करते थे.

Next

Essay on Mera Bachpan in Hindi For students

mera bachpan in hindi

मेरा बचपन पर निबंध- Mera Bachpan Essay in Hindi Language बचपन हर व्यक्ति के जीवन का मौज मस्ती से भरपूर एक अहम हिस्सा होता है। मेरा बचपन बहुत ही सुहावना रहा और मेरा बचपन गाँव में ही बीता है। मैं बचपन में बहुत ही नटखट स्वभाव का होता था और घर में सबसे छोटा होने के कारण सबका दुलार भी खुब मिलता था। बचपन में सुबह सुबह उठकर दोस्तों के साथ खेत की तरफ जाना ट्यूबवैल के नीचे नहाना और हँसते दौड़ते घर वापिस आना। कुछ इस तरह हमारे दिन की शुरूआत होती थी। मुझे बचपन से ही मलाई बहुत पसंद है तो बचपन में रोज सुबह मलाई के साथ पराठे खाने का अलग ही मजा था। मेरा स्कूल भी घर से थोड़ी ही दूरी पर था तो हम सब दोस्त पैदल स्कूल जाते थे और स्कूल में भी शोर मचाकर बहुत मस्ती करते थे। दोपहर को घर आते ही माँ के हाथ की ठंडी लस्सी मिलती थी और फिर से हसीं मजाक शुरू हो जाता था। कभी कभी ज्यादा शरारते करने पर माँ बाबू जी से डाँट पढ़ती थी लेकिन दादी माँ उनकी डाँट से मुझे बचा लेती थी और अपने आँचल में छुपा लेती थी। दादा जी रोज शाम को हमें सैर के लिए ले जाते थे और हम सब बच्चों को खूब हँसाते थे। हम सब बच्चे गिल्ली डंडा, क्रिकेट, दौड़, रस्सी कूदना आदि खेल खेलते थे। रात को थकने के बाद दादी माँ से कहानी सुनकर सोने में बहुत ही आनंद आता था। उनकी कहानी मनोरंजन के साथ साथ सीख भी देती थी। गाँव में बिजली कम आने के कारण गर्मियों में हम सब लोग छत पर ही सोते थे और प्राकृतिक हवा का आनंद लेते थे। मेरा बचपन बहुत ही आनंदमय रहा है जिसमें न कोई भय न कोई फिक्र थी। हमेशा अपनी मर्जी चलती थी। काश! कई बार विभिन्न प्रकार के खेल, खेलते समय मेरी मित्रों से लड़ाई भी हुई, लेकिन कोई भी लड़ाई अधिक दिनों तक मैं चलने नही देता. बचपन के वो सुनहरे दिन जब हम खेलते रहते थे तो पता ही नहीं चलता कब दिन होता और कब रात हो जाती थी. Kalam believed in the power of the unknown God. बरसात के मौसम में सबसे नजरें चुराकर भीगना एवं भीगते हुए पानी की नाव को रास्ते में पानी में बहाने का एक अलग ही आनन्द था. मुझे भी केवल गृहकार्य पूरा करने से मतलब रहता था.


Next

मेरा बचपन पर निबंध हिन्दी 2022

mera bachpan in hindi

Kalam was one of several children. विपक्षी को लगी गेंदों की संख्या के आधार पर हार जीत का निर्णय होता था. बचपन में सावन का महीना आने पर हम पेड़ पर झूला डाल कर झूला झूलते थे और ठंडी ठंडी हवा का आनंद लेते थे. मैं प्रायः रविवार के दिन अपने किसी मित्र के साथ शतरंज की एक बाजी खेल ही लेता था. त्याने निवडलेल्या क्षेत्रात यश संपादन करण्यासाठी त्याला विशेष मेहनतीची आवश्यकता पडत नाही.

Next