Disadvantages of junk food in hindi. junk food effects disadvantages and diseases of eating junk food 2022-10-24

Disadvantages of junk food in hindi Rating: 5,2/10 516 reviews

Procrastination is a common problem that affects people of all ages and from all walks of life. It is the act of delaying or postponing tasks or responsibilities, often despite knowing that doing so will have negative consequences. Procrastination can have a range of negative effects on an individual's personal and professional life, including reduced productivity, increased stress, and decreased self-esteem.

There are many reasons why people might procrastinate. Some people may struggle with time management or organizational skills, while others may simply lack motivation or focus. Others may procrastinate due to anxiety or fear of failure, or because they feel overwhelmed by the task at hand.

Regardless of the reason, procrastination can have serious consequences. It can lead to missed deadlines, decreased productivity, and increased stress and anxiety. It can also have a negative impact on an individual's self-esteem and overall sense of accomplishment.

So how can we overcome procrastination? Here are a few strategies that can help:

  1. Identify the root cause of your procrastination. Are you struggling with time management skills? Do you lack motivation or focus? Understanding the root cause of your procrastination can help you develop a plan to address it.

  2. Set clear and specific goals. Having a clear and specific goal can help you stay focused and motivated. It can also help you break down tasks into smaller, more manageable steps.

  3. Use a planner or schedule. Creating a schedule or using a planner can help you stay organized and on track. It can also help you prioritize tasks and allocate your time effectively.

  4. Eliminate distractions. It's hard to focus on a task when you're constantly being interrupted or pulled in different directions. Eliminating distractions can help you stay focused and increase your productivity.

  5. Take breaks and practice self-care. Taking regular breaks can help you recharge and refocus, while practicing self-care can help you manage stress and maintain your overall well-being.

Procrastination is a common problem, but it is also a problem that can be overcome with the right strategies and mindset. By setting clear goals, using a planner or schedule, eliminating distractions, and practicing self-care, you can overcome procrastination and achieve your goals. So, always try to avoid procrastination and be productive.

जंक (फास्ट) फूड के नुकसान

disadvantages of junk food in hindi

During this research conducted in the year, junk food such as salty snacks, sweets, sugary beverages and fast food were included in the diet. This builds up plaque in the arteries, which causes more pressure when pumping blood down the heart. वर्ष 2019 में Centre for Science and Environment की ओर से 9 से 17 साल के बच्चों पर किए गए सर्वे में सामने आया था कि 93% बच्चे हफ्ते में एक से ज्यादा बार पैक्ड जंक फूड Junk Food खाते हैं. ईरानी बच्चों और व्यस्कों पर किए गए अध्ययन से पता चला है कि जंक फूड से कई तरह की मानसिक समस्याएं हो सकती हैं, जिनमें अवसाद यानी डिप्रेशन भी शामिल है जंक फूड मानसिक स्वास्थ्य को कैसे प्रभावित करता है? चेहरे पर पसीना आने लगता है. According to research, junk food causes muscle contraction, which leads to headache. According to a research paper, regular consumption of junk food leads to excess salt in the body, because fast food is high in salt.

Next

जंक फूड खाने के नुकसान

disadvantages of junk food in hindi

हार्ट अटैक- पिज्जा में मैदा, आटा, नमक, खमीर, शक्कर, पनीर, सॉस, पत्तागोभी, पपड़ी, चीज़, तेल आदि पदार्थ होते हैं जो शरीर में कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाते हैं। पिज्जा में सैचुरेटेड फैट ज्यादा होता है जो कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाता है। कोलेस्ट्रॉल के बढ़ने से आट्रीज़ बंद हो जाती है जिसके चलते हार्ट अटैक का खतरा बढ़ जाता है।. Problems related to blood pressure The disadvantages of junk food also include problems like blood pressure. For this reason, the harm of junk food also includes increasing cholesterol. In such a situation, consuming a healthy diet can be effective in improving mental health. वहीं उनके इंश्योरेंस क्लेम को कंपनी ने तकनीकी कमी निकालकर अधर में लटका दिया है. It can negatively impact brain health, especially impairing memory functions. This is the reason why migraine sufferers are advised to abstain from fast food.

Next

Essay on junk food in hindi: जंक फूड पर निबंध

disadvantages of junk food in hindi

मोटापे से कई बीमारियों का खतरा पेट बाहर निकलने की समस्या के अलावा 63% युवाओं के निचले अंग लिवर और इंटेस्टाइन के पास Fat जमा हो गया था. Acne Troubles According to a research, the consumption of western diet i. Diabetes is a chronic metabolic disorder that causes hyperglycemia, glycosuria, hyperlipemia, negative nitrogen balance and sometimes ketonemia metabolic disorder. The problem of rot The problem of tooth decay is also counted among the disadvantages of eating junk food. The result was an increased risk of obesity among junk food eaters. A study revealed that children who watch junk food advertisements increase their risk of unhealthy food choices, which they make within less than 30 minutes after exposure to advertisements Regular consumption of fast foods such as burger, pizza, sandwich and pastries which usually contain harmful ingredients like sugar, palm oil, high fructose corn syrup, white flour, artificial sweeteners, trans fat, and monosodium glutamate MSG , to name a few increases the risk of obesity, heart disease, cancer and so on.

Next

जंक फूड क्या है? क्यों यह हमारे लिए खराब है?

disadvantages of junk food in hindi

Our aim is to bring you news, perspectives and knowledge to prepare you to change the world. वहीं 30 से 44 साल से युवाओं में 62% से ज्यादा युवा मोटापे की समस्या से जूझ रहे हैं. This compound can cause Chinese restaurant syndrome. असल मे धीरज की रीढ़ की हड्डी झुक जाने की वजह से डॉक्टरों ने धीरज की जो लंबाई इंश्योरेंस कंपनी को भेजी थी, वो इंश्योरेंस लेते समय ली गई लंबाई से कम थी. Eating junk foods will deprive your body of essential nutrients and kill your appetite by keeping your stomach full for a long period of time.

Next

जानिए जंक फूड (फास्ट फूड) के नुकसान और हानिकारक प्रभावों को

disadvantages of junk food in hindi

जिससे इन युवाओं को कम उम्र में ही high blood pressure, हृदयरोग, type 2 diabetes, high cholesterol जैसी बीमारियों से संक्रमित होने का खतरा बन गया था. जिन खाद्य पदार्थों में ट्रांस-वसा, परिष्कृत अनाज, नमक और उच्च फ्रुक्टोज कॉर्न सिरप शामिल होता है उन्हें घर लाने से बचना चाहिए। उन खाद्य पदार्थों से बचें जिनके लेबल पर कॉर्न स्वीटनर, कॉर्न सिरप, कॉर्न सिरप ठोस, आंशिक रूप से हाइड्रोजनीकृत, या हाइड्रोजनीकृत हों। जंक फूड को सही तरीके से लेबल करना क्यों महत्वपूर्ण है? बच्चों पर ज्यादा पड़ रहा जंक फूड का असर बच्चों में इस मोटापे का मुख्य कारण जंक फूड ही है. भारत की आधी आबादी की उम्र 28 वर्ष से कम है. Other Side Effects of Fast Food Apart from the side effects mentioned in detail above, the disadvantages of junk food include many other problems. DownToEarth Down To Earth is a product of our commitment to make changes in the way we manage our environment, protect health and secure livelihoods and economic security for all. Let us know about them below. Disadvantages of Eating Junk As we mentioned above, junk food lacks nutrients and is high in calories, fat and sugar.

Next

junk food effects disadvantages and diseases of eating junk food

disadvantages of junk food in hindi

Excess consumption can lead to feeling lethargic, dyslexia, lack of concentration. At the same time, there is also a decrease in the return of blood to the heart upstream. Be aware that there are two types of diabetes mellitus typeand type. Iranian children and showed the study conducted on adults might psychological problems of various kinds of junk food, including depression, or depression. In such a situation, what can be the harm to health due to its consumption, read it in detail below. Junk food is also known as fast food.

Next

Disadvantages of Eating Junk Food

disadvantages of junk food in hindi

भारत की युवा आबादी को भी जंक फूड वाला मोटापा Obesity किस तरह से अपने जाल में फंसा रहा है, इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि भारत में 20 से 29 साल के 42% युवा मोटापे का शिकार हैं. According to the information present in the CDC Centers for Disease Control and Prevention, fast food is considered a part of the American diet. हृदय रोग का जोखिम अध्ययन की मानें, तो जंक फूड भी हृदय रोगों का एक प्रमुख कारण है। यह धमनियों में प्लाक बनाता है, जिसकी वजह से हृदय के नीचे की ओर रक्त को पंप करते समय अधिक दबाव पड़ता है। वहीं, ऊपर की ओर हृदय में रक्त की वापसी में भी कमी होती है। इसकी वजह से हृदय को दो तरह के नुकसान हो सकते हैं। पहला हृदय में थकान और दूसरा ऑक्सीजन की आपूर्ति में नुकसान होना 7. Talking about the advantages and disadvantages of fast food, then the disadvantages of junk food are many. For this reason, the problem of heart disease is also counted among the disadvantages of junk food. आज के भारत के युवाओं की जिम्मेदारी पेट संभालने के बजाय देश को संभालने की है. आने वाले समय मे भारत को विश्व गुरु बनाने की आशाएं इसी युवा पीढ़ी पर ही टिकी हैं.

Next

पिज्जा खाने से हो सकती हैं ये 5 बीमारियां

disadvantages of junk food in hindi

दुनिया भर में जंक फूड को स्वास्थ्य के लिए हानिकारक माना गया है। ये गैर-संचारी रोगों एनसीडी को जन्म देते हैं, विशेष रूप से गरीब देशों में कुपोषण और मोटापे के दोहरे बोझ के लिए जिम्मेदार हैं। लेबल लगाने से स्कूलों और विश्वविद्यालयों तक पहुंचने और इनकी उपलब्धता को प्रतिबंधित करने के अलावा, इसे एक महत्वपूर्ण नियामक उपकरण के रूप में अपनाया जा सकता है। कैसे छोड़ा जा सकता है जंक फूड का सेवन? वहीं 13 से 17 साल के 59% बच्चे ऐसे थे, जो रोजाना जंक फूड खाते थे या फिर packed beverage पीते थे. More than % of cases of typediabetes can be caused by the consumption of junk food. The reason for this is nothing but the chemicals and harmful elements present in it. They also cause other digestive problems such as acidity, constipation and bloating. In this, after eating fast food, headache and other symptoms start appearing. We believe strongly that we can and must do things differently. ध्यान दें कि जंक फूड को छोड़ना एक लगातार चलने वाली प्रक्रिया है। यदि आप ऐसे व्यक्ति हैं जो जंक फूड की दैनिक खुराक के आदी हैं, तो आपके लिए इन्हें छोड़ना जरा सा कठिन होगा। पहले कुछ दिन कठिन हो सकते हैं क्योंकि आप इनमें से कुछ लक्षणों का अनुभव कर सकते हैं: चिड़चिड़ापन, सिरदर्द, ऊर्जा के स्तर में गिरावट और इसी तरह। धीरे-धीरे आप इससे छुटकारा पा सकते हैं। अगले भाग में जंक फूड पदार्थों से संबंधित कानूनों और सीएसई ने जंक फूड को लेकर क्या सिफारिशें की हैं इसके बारे में जानेंगे! भारत सरकार के अंतर्गत आने वाले autonomous रिसर्च इंस्टीट्यूट 'Institute of Economic Growth' की ओर से वर्ष 2020 में जारी किए आंकड़ों के मुताबिक भारत में साल 2020 में मोटापे का शिकार 5 से 19 साल के बच्चों की संख्या 1 करोड़ 70 लाख से ज्यादा थी, जिसका साल 2030 तक बढ़ कर 2 करोड़ 70 लाख से ज्यादा होने का अनुमान है.

Next

13 Disadvantages Of Junk Foods

disadvantages of junk food in hindi

According to research, consumption of junk food can increase the risk of mental problems and violent behavior in children and adolescents. भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद आईसीएमआर के अनुसार, जंक फूड प्रसंस्कृत खाद्य पदार्थ है जिसमें पोषक तत्व न के बराबर होते हैं, अक्सर इनमें नमक, चीनी और वसा की मात्रा अधिक होती है। जंक फूड उच्च कैलोरी युक्त खाद्य पदार्थ हैं, ये खाद्य पदार्थ इस तरह से तैयार किए जाते हैं कि वे आकर्षक दिखें खाने में स्वादिष्ट हो, ताकि आप इनकी मांग अधिक से अधिक करें। व्यावसायिक उत्पाद जिनमें नमकीन स्नैक फूड, गम, कैंडी, शक्कर युक्त मिठाइयां, तला हुआ भोजन और मीठे कार्बोनेटेड पेय शामिल हैं, जो बहुत ही कम या बिना पौष्टिक वाले होते हैं, इनमें ज्यादा नमक और वसा होती है इसे जंक फूड माना जा सकता है। सीएसई के पर्यावरण निगरानी प्रयोगशाला ईएमएल ने 33 लोकप्रिय जंक फूड पदार्थों में नमक, वसा, ट्रांस वसा और कार्बोहाइड्रेट का परीक्षण किया, जिसमें चिप्स, नमकीन, इंस्टेंट नूडल्स और इंस्टेंट सूप के 14 नमूने और बर्गर, फ्राइज, फ्राइड चिकन, पिज्जा, सैंडविच के 14 नमूने शामिल थे। इन नमूनों को दिल्ली में किराने की दुकानों और फास्ट फूड आउटलेट से एकत्र किया गया था और देश भर में इन्हें व्यापक रूप से बेचा और इनकी खपत के लिए जाना जाता है। जंक फूड आपके लिए क्यों खराब हैं? First, fatigue in the heart and second loss of oxygen supply. According to research, tooth decay in children can be mainly due to consumption of junk food such as candy, chocolate, chips, biscuits and sugary drinks. Will you lose weight if you stop eating fast food? Actually, monosodium glutamate MSG is used in fast food. The problem of depression The problem of depression is also included in the disadvantages of eating junk food.

Next

disadvantages of junk food in hindi

Higher intake of high fat and high sugar foods can slow down the speed of learning, memory and attention. Yes, if research is to be believed, then consuming a poor diet like junk food damages the nervous system. These changes are also linked to diet. It can make you sick and tired and also cause various other health problems. विश्व स्वास्थ्य संगठन WHO के मुताबिक कम उम्र के लोगों में मोटापे Obesity की समस्या 21वीं सदी की सबसे बड़ी दिक्कत बनती जा रही है, जिसे पूरा विश्व झेल रहा है. जंक फूड या फास्ट फूड चलते-फिरते समय का एक लोकप्रिय भोजन विकल्प बन गए हैं। लेकिन आपको इनका सेवन करने से पहले यह जानना आवश्यक है कि कौन सा खाद्य पदार्थ आपके स्वास्थ्य को नुकसान पहुंचा सकता है। अक्सर हम जंक फूड और फास्ट फूड को पहचानने में भ्रमित हो जाते हैं, वे दोनों कैसे अलग हैं? It is a chronic pulmonary obstructive disorder, which is caused by artificial flavoring and coloring agents that are abundant in junk food. This can lead to an increase in blood pressure, that is, high blood pressure.

Next